इन सर्वोत्तम उपाय से करे पित्त प्रकृति को संतुलित : Pitaa Prakrati

पित्त प्रकृति

मस्तिष्क तथा शरीर की सभी क्रियाएँ संयमित होनी चाहिए। पित्त को ठंडे भोजन, ठंडी वायु तथा ठंडे वातावरण से संतुलित किया जाता है। पित्त दोषवाले लोग बड़े आक्रामक तथा गरम मिजाज होते हैं। तीखा, खट्टा तथा नमकीन भोजन पित्त दोष को असंतुलित कर देता है। अल्कोहल युक्त पेय भी पित्त को उत्तेजित करते हैं। ऐसे … Read more